Indian Railway main logo Welcome to Indian Railways
View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

विभाग और सूचना

उत्पाद

निविदा सूचना

विक्रेता और ठेकेदार कॉर्नर

हमसे संपर्क करें

स्टाफ कॉर्नर

समाचार
सभी विभाग
प्रशासन
लेखा
सिविल
डिज़ाइन
विद्युतीय
सूचना प्रौद्योगिकी
चिकित्‍सा
यांत्रिक
कार्मिक
गुणवत्ता
संकेत और दूरसंचार
स्टोर
सुरक्षा
गुणवत्ता
वारंटी
रोलिंग स्टॉक वारंटी प्रमाणपत्र
लचब पुर्जों
वार्षिक अचल संपत्ति विवरण
अधिकारियों की आधिकारिक यात्रा
तकनीकी जानकारी
स्वच्छ भारत अभियान
संवेदनशील पदों की सूची
 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

रेल कोच फैक्ट्री, कपूरथला ने किया रिकॉर्ड कोच उत्पादन



01.04.2021: रेल कोच फैक्ट्री, कपूरथला ने वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान कोचोंके उत्पादन में एक और रिकॉर्ड बनाया है। रेल कोच फैक्टरी, जो कि सबसे बड़ी कोच निर्माण इकाई में से एक है, ने वर्ष 2020-21 के दौरान 1500 कोचों का उत्पादन किया है, जिनमें से 1497 एलएचबी कोच हैं। इसने पिछले वर्ष यानी 2019-20 के दौरान 1342 कोचों का निर्माण कियाथा Iबी कोच शामिल थे ।

यह बात उल्लेखनीय है कि वर्ष के दौरान निर्मित 1500 कोचों का उत्पादन पिछले पांच वर्षों में सबसे अधिक हैं।इससे पहले 2016-17 में 1489 कोचों का निर्माण किया गया था। इसके अलावा, यह बढ़े हुए उत्पादन की वृद्धि कोविद महामारी के कठिन समय के कारण और भी अधिक महत्वपूर्ण है जिसके दौरान उत्पादन काफी समय तक निलंबित रहा

मार्च के महीने में आर सी एफ ने एक और उप्लभ्धि हासिल की जब इस महीने में 182 कोचों का उत्पादन किया गया। आर सी एफ ने दिसंबर 2020 में 154 कोचों के उच्चतम मासिक कोच उत्पादन किया था । इसके इलावा एक दिन में औसतन 7.28 कोचों का रिकॉर्ड औसत उत्पादन प्राप्त किया गयाजोकि आर सी एफ के इतिहास में सबसे अधिक दैनिक कोच उत्पादन है। फरवरी 2021 के दौरानआरसीएफ ने 6.30 डिब्बों का दैनिक औसत उत्पादन प्राप्त कियाथा ।

वर्ष 2020-21 में आर सी एफ ने कोच उत्पादन में बढ़ोतरी के इलावा कई नई तरह के कोचों का निर्माण किया। इनमे नई सुविधाओं के साथ एक नया 83 बर्थ एसी 3 टियर इकोनॉमी कोच का निर्माण शामिल है । इस कोच में आधुनिक यात्री सुविधाओं को एक नए शिखर पर ले जाया गया है,जिसेकी ट्रायल के बाद रेगुलर उत्पादन के लिए पास कर दिया गया है।इसके अलावा, RCF ने आधुनिक सुविधाओं से लैस 120 सीटों वाले एक डबल डेकर का उत्पादन किया जो 160 किमी प्रति घंटे की शीर्ष गति से चल सकता है। आरसीएफ ने पार्सल वस्तुओं के परिवहन के लिए लाइट वेट पार्सल कोच मार्क -2 का भी निर्माण किया ।

वर्ष के दौरान आरसीएफ के शानदार प्रदर्शन परश्री रवींद्रगुप्ता, जी एम आरसीएफ ने कहा कि पूरी दुनिया में कोरोना संकट के बावजूद, पिछले वर्षों की तुलना में हमने जो रिकॉर्ड बनाया है वह बहुत ही सराहनीय है।लाक डाउन के चलते और डिब्बों में लगने वाले समान की सप्लाई चैन में बाधाओं के बावजूद, आरसीएफकर्मचारियों ने अद्भुत क्षमता और समर्पण का प्रदर्शन किया। आरसीएफ ने न केवल रिकॉर्डउत्पादन हासिल किया बल्कि एलवीपीएच मार्क 2,  -3-  टियरएसी इकोनॉमी क्लास और 160 किलोमीटर प्रति घंटा की गति वाले Double Decker -डेकर जैसे नए उत्पादों का उत्पादन करके देश में विशेष प्रशंसा हासिल की । आरसीएफ नए वित्तीय वर्ष में उत्पादन को एक नए शिखर पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है और और उसका लक्ष्य नए वित्तीय वर्ष में 2000 डिब्बों का उत्पादन है । उन्होंने कहा कि आरसीएफ  ए सी इकोनॉमी क्लास कोच का विस्तृत उत्पादन शुरूकरने को दृढ़ है ।


 




 






  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.